थां बिन म्हारी आँख्या हो गी बावली, हिताबर के मन में बस गई सूरत थारी संवाली, | 1000+ مجموعة أفضل موسيقى الوقت

by jack ck

थां बिन म्हारी आँख्या हो गी बावली,
हिताबर के मन में बस गई सूरत थारी संवाली,
| Collections best music of time

Download Bhajan as .txt File

Download Bhajan as IMAGE File

थां बिन म्हारी आँख्या हो गी बावली,
हिताबर के मन में बस गई सूरत थारी संवाली,

मनरो म्हारो सुनो धोले,
डगमग झोला खावे है,
आंखन लागे विरहा की मारी अनसु उड़ा टपकावे है,
किया चाल सी ता बिन माहरी गाडली,
हिताबर के मन में बस गई……

मीरा पर किरपा की नीती सुन बा आया  बात्डली,
दास तारो ये आस लगाया करो उडीक के बात्डली,
प्रेम याम से भरदो हमारी बाटली,
हिताबर के मन में बस गई……

पहला प्रीत लगाके क्यों  छोड़े मजधार जी,
प्रेम भाव को पाठ पड़ा कर मत बिसरे दिल दार जी,
मन में रम गई  सूरत थारी सवाली,
हिताबर के मन में बस गई……

हे छोड़ो पण मैं न छोडू मैं तो थारो दास जी,
खाटू का श्याम मुरारी मैं तो थारो खास जी ,
आलू सिंह था बिन अखिया बावली,

thaan bin mhaaree aankhya ho gee baavalee,
hitaabar ke man men bas gaee soorat thaaree sanvaalee,

manaro mhaaro suno dhole,
dagamag jhola khaave hai,
aankhan laage viraha kee maaree anasu uda़a tapakaave hai,
kiya chaal see ta bin maaharee gaadalee,
hitaabar ke man men bas gaee……

meera par kirapa kee neetee sun ba aaya  baatdalee,
daas taaro ye aas lagaaya karo udeek ke baatdalee,
prem yaam se bharado hamaaree baatalee,
hitaabar ke man men bas gaee……

pahala preet lagaake kyon  chhoda़e majadhaar jee,
prem bhaav ko paath pada़a kar mat bisare dil daar jee,
man men ram gaee  soorat thaaree savaalee,
hitaabar ke man men bas gaee……

he chhoda़o pan main n chhodoo main to thaaro daas jee,
khaatoo ka shyaam muraaree main to thaaro khaas jee ,
aaloo sinh tha bin akhiya baavalee,

See more great songs lyrics here: https://egyptchord.com/

full song

थां बिन म्हारी आँख्या हो गी बावली,
हिताबर के मन में बस गई सूरत थारी संवाली,

Download Bhajan as .txt File

Download Bhajan as IMAGE File

थां बिन म्हारी आँख्या हो गी बावली,
हिताबर के मन में बस गई सूरत थारी संवाली,

मनरो म्हारो सुनो धोले,
डगमग झोला खावे है,
आंखन लागे विरहा की मारी अनसु उड़ा टपकावे है,
किया चाल सी ता बिन माहरी गाडली,
हिताबर के मन में बस गई……

मीरा पर किरपा की नीती सुन बा आया  बात्डली,
दास तारो ये आस लगाया करो उडीक के बात्डली,
प्रेम याम से भरदो हमारी बाटली,
हिताबर के मन में बस गई……

पहला प्रीत लगाके क्यों  छोड़े मजधार जी,
प्रेम भाव को पाठ पड़ा कर मत बिसरे दिल दार जी,
मन में रम गई  सूरत थारी सवाली,
हिताबर के मन में बस गई……

हे छोड़ो पण मैं न छोडू मैं तो थारो दास जी,
खाटू का श्याम मुरारी मैं तो थारो खास जी ,
आलू सिंह था बिन अखिया बावली,

thaan bin mhaaree aankhya ho gee baavalee,
hitaabar ke man men bas gaee soorat thaaree sanvaalee,

manaro mhaaro suno dhole,
dagamag jhola khaave hai,
aankhan laage viraha kee maaree anasu uda़a tapakaave hai,
kiya chaal see ta bin maaharee gaadalee,
hitaabar ke man men bas gaee……

meera par kirapa kee neetee sun ba aaya  baatdalee,
daas taaro ye aas lagaaya karo udeek ke baatdalee,
prem yaam se bharado hamaaree baatalee,
hitaabar ke man men bas gaee……

pahala preet lagaake kyon  chhoda़e majadhaar jee,
prem bhaav ko paath pada़a kar mat bisare dil daar jee,
man men ram gaee  soorat thaaree savaalee,
hitaabar ke man men bas gaee……

he chhoda़o pan main n chhodoo main to thaaro daas jee,
khaatoo ka shyaam muraaree main to thaaro khaas jee ,
aaloo sinh tha bin akhiya baavalee,

wish you have a good time

0 comment

You may also like

Leave a Comment